सरकार अटल पेंशन योजना (एपीवाई) की लिमिट 5,000 से बढ़ाकर 10,000 रुपए महीना कर सकती है। पेंशन फंड रेग्युलेटरी एंड डवलपमेंट अथॉरिटी (पीएफआरडीए) ने फाइनेंस मिनिस्ट्री को ये प्रपोजल दिया है। इसका मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना से जोड़ना है।
पीएफआरडीए के चेयरमैन हेमंत जी का कहना है- इस बारे में काफी फीडबैक मिला था, जिसके बाद सरकार को प्रस्ताव भेजा गया। लोगों का कहना था कि 60 साल की उम्र में 5,000 रुपए पर्याप्त नहीं होंगे। APY के अभी 5 स्लैब 1,000 से 5,000 रुपए महीने तक के हैं। इसकी उम्र सीमा भी 40 से बढ़ाकर 50 साल करने का प्रपोजल है।

योजना से जुड़ने के लिए मासिक प्रीमियम

– अगर आप 60 साल की उम्र पूरी करने पर 1000 रुपए मासिक पेंशन चाहते हैं और 18 साल की उम्र में योजना से जुड़ते हैं, तो आपको 42 रुपए हर महीने देने होंगे। अगर आप 5000 रुपए पेंशन चाहते हैं और 18 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो आपको 210 रुपए देने होंगे।
– 18 से 40 साल की उम्र का कोई भी व्यक्ति अटल पेंशन योजना (APY) में निवेश करके हर माह 1 हजार रुपए से लेकर 5 हजार रुपए तक की पेंशन पा सकता है। पेंशन 60 साल की उम्र के बाद मिलना शुरू होती है।
– अटल पेंशन स्कीम खासतौर पर अनओर्गनाइज्ड सेक्टर के इम्प्लॉइज के लिए शुरू की गई है। अभी इसमें 1 हजार, 2 हजार, 3 हजार, 4 हजार या 5 हजार रुपए की फिक्स पेंशन इसमें पा सकते हैं। पेंशन कितनी मिलेगी, यह इस बार पर डिपेंड करता है कि आपका कितना इन्वेस्ट कर रहे हैं।
– यदि आप 18-20 साल की उम्र से ही इन्वेस्टमेंट शुरू कर देते हैं तो आपको काफी छोटी किस्त हर माह देना होगी। वहीं 60 की उम्र पूरी करने पर पेंशन का पूरा बेनिफिट मिलेगा। हालांकि 18 से 40 साल की उम्र तक का कोई भी व्यक्ति इस स्कीम का फायदा उठा सकता है।
– इस स्कीम में आप इन्वेस्ट करते हैं टैक्स बचत भी कर सकेंगे। आप इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80सीसीडी (1बी) के तहत 50 हजार रुपए तक का डिडक्शन क्लेम कर सकेंगे। वहीं 80सी के तहत 1.5 लाख का डिडक्शन क्लेम किया जा सकेगा। यदि सब्सक्राइबर की डेथ हो जाती है तो पेंशन उसकी पत्नी को दिए जाने का प्रावधान है।

कितना पैसा जमा करने पर, कितनी मिलेगी पेंशन

– 1000 रुपए की पेंशन चाहते हैं तो 18 साल की उम्र में जुड़ने पर 42 रुपए मासिक किस्त जमा करना होगी। वहीं 40 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो 291 रुपए मासिक किस्त जमा करनी होगी।
– 2000 रुपए पेंशन चाहते हैं तो 18 साल की उम्र में जुड़ने पर 84 रुपए मासिक किस्त जमा करना होगी। वहीं 40 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो 582 रुपए मासिक किस्त होगी।
– 3000 रुपए पेंशन चाहते हैं तो 18 साल की उम्र में जुड़ने पर 126 रुपए मासिक किस्त जमा करना होगी। वहीं 40 साल की उम्र में जुड़ते हैं तो यह राशि 873 रुपए होगी।
– 4000 रुपए पेंशन चाहते हैं तो 18 साल की उम्र में जुड़ने पर 168 रुपए मासिक किस्त जमा करना होगी। वहीं 40 साल की उम्र में जुड़ने पर 1164 रुपए किस्त जमा करना होगी।
– 5000 रुपए पेंशन चाहते हैं तो 18 साल की उम्र में जुड़ने पर 210 रुपए मासिक किस्त जमा करना होगी। वहीं 40 साल की उम्र में जुड़ने पर 1454 रुपए रुपए हर माह जमा करना होंगे।

क्या हैं इस स्कीम के फायदे

– योजना सरकार की और से शुरू की गई है, इसलिए इसकी गारंटी है।
– यह स्कीम योजना धारक की मौत के बाद भी चालू रहती है। डेथ के बाद परिजनों को पेंशन मिलती है।
– पति-पत्नी दोनों की डेथ हो जाए तो यह राशि नॉमिनी को दे दी जाती है।
– इसमें खाता खोलने के लिए भारतीय नागरिक होना जरूरी है। उम्र कम से कम 18 साल होना चाहिए।
– इसके लिए बैंक में सेविंग अकाउंट होना भी जरूरी है।
– एक व्यक्ति इस स्कीम के तहत केवल एक खाता ही खोल सकता है।
– इस किसी भी सरकारी बैंक में जाकर खोला जा सकता है।
– इसमें पेंशन राशि को कभी भी बदला भी जा सकता है। कैंसर, किडनी, दिल जैसी कोई गंभीर बीमारी है तो इसे 60 साल की उम्र से पहले भी बंद किया जा सकता है।
– आप इसमें मासिक, तिमाही या 6 माह में एक बार की किस्त बंधवा सकते हैं।