कोर्ट से मांगी इजाजत  विजय माल्या ने कहा कि कुछ लोग पूछ रहे हैं कि उन्होंने इक वक्त ही क्यों अपना बयान जारी किया है, तो इसकी वजह यही है कि UBHL और माल्या ने कर्नाटक हाईकोर्ट में कर्ज चुकाने के लिए संपत्ति बेचने की मंजूरी की ऐप्लीकेशन दी है. आपको बता दें, पिछले हफ्ते प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विशेष अदालत से भगोड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश, 2018 के तहत माल्या को ‘भगोड़ा आर्थिक अपराधी’ घोषित करने की मांग की थी. इस अध्यादेश के तहत दायर की गई यह पहली अर्जी है. माना जा रहा है कि माल्या ने इसके जवाब में ही अपनी सफाई पेश की है.

भारत में बन गया हूं पोस्टर व्वाय
माल्या ने कहा कि भारत में उसे बैंक धोखाधड़ी करने वालों का पोस्टर ब्वॉय बना दिया गया है. उनका नाम आते ही लोग भड़क उठते हैं. नेताओं और मीडिया ने ऐसे पेश किया जैसे मैं किंगफिशर एयरलाइंस को दिया गया कर्ज लेकर फरार हो गया हूं. कुछ बैंकों ने मुझे विलफुल डिफॉल्टर यानी जानबूझकर कर्ज नहीं चुकाने वाला घोषित कर दिया.माल्या ने कहा कि ईडी ने मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत मेरी और मेरे परिवार की संपत्ति जब्त कर ली है. इस संपत्ति का मूल्य करीब 13,900 करोड़ रुपए है. माल्या के मुताबिक, उसने इसे बेचने के लिए कर्नाटक हाईकोर्ट में 22 जून को आवेदन किया है. 

विजय माल्या एक भारतीय व्यापारी और राजनेता भी रहे है है. उद्योगपति विट्ठल माल्या के बेटे, वे संयुक्त ब्रुअरिस समूह और किंगफिशर एयरलाइन्स के अध्यक्ष है, जो संयुक्त ब्रुअरिस समूह के प्रमुख ब्रांड बियर, किंगफिशर से प्राप्त करता है. इसके साथ ही विजय माल्या भारतीय राज्य सभा के सांसद भी रहे.
इसके साथ वे भारत की फार्मूला वन टीम सहारा फ़ोर्स के सह-मालक भी रहे. उनकी कंपनी ने भारतीय प्रिमिअर लीग की टीम रॉयल चैलेंजर बंगलौर, आय-लीग टीम मोहम बागन ए.सी. और पश्चिम बंगाल एफ.सी. को ख़रीदा है. इसके साथ ही वे FIA के विश्व मोटर स्पोर्ट कौंसिल के सदस्य भी है और भारत का प्रतिनिधित्व भी करते रहे है.

माल्या भारत और यूनाइटेड स्टेट दोनों में ही बहोत सी पब्लिक कंपनियों के चेयरमैन भी है. वे सनोफी इंडिया और बाएर क्रॉप साइंस के 20 साल से भी ज्यादा समय तक चेयरमैन रह चुके है, और साथ ही आज भी वे बहोत सी पब्लिक कंपनियों के चेयरमैन भी है.

विजय माल्या का व्यक्तिगत जीवन – Vijay Mallya Personal Lifestyle :

विजय माल्या, मंगलोर, बंतवाल के प्रसिद्ध बिजनेसमैन विट्ठल माल्या के बेटे है. उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा La Martiniere Calcutta से ग्रहण की. और बाद में 1970 में सेंट जेविअर कॉलेज, कोलकाता से वे ग्रेजुएट हुए. पढाई पूरी करने के बाद माल्या अपने पारिवारिक व्यवसाय में ही शामिल हो गये. ग्रेजुएशन होने के बाद वे यूनाइटेड स्टेट चले गये.1986 में, उनकी मुलाकात एयर इंडिया की एयर होस्टेस समीरा तैयबजी से हुई और उन्हीसे बाद में उन्होंने शादी भी कर ली. उनके बेटे, सिद्धार्थ माल्या का जन्म 7 मई 1987 को हुआ. लेकिन बाद में कुछ ही समय बाद उनका तलाख हो गया. जून 1993 में माल्या ने रेखा से शादी कर ली, लेकिन रेखा का भी तलाख हो चूका था, माल्या रेखा को बचपन से ही जानते थे क्योकि वह उनके पड़ोस में ही रहती थी.

विजय माल्या बिज़नेस – Vijay Mallya Business Net Worth :

अपने पिता की मृत्यु के बाद 28 साल की आयु में 1983 में माल्या यूनाइटेड ब्रेअरिस ग्रुप के चेयरमैन बने. तब से, उनका यह समूह वैश्विक स्तर पर अपनी पहचान बना रहा है और इस समूह की लगभग आज 60 कंपनिया है, जिनका वार्षिक टर्नओवर 64% बढ़कर 1998-1999 को 11 बिलियन US डॉलर हुआ था. अपने दुसरे ग्रुप UB ग्रुप के तहत माल्या ने बहोत सी दूसरी कंपनियों को भी अधिग्रहित कर लिया था. और अपना ज्यादा से ज्यादा ध्यान वे अपने सबसे सफल व्यवसाय शराब के व्यवसाय पर देने लगे. सालो बाद उनकी पहचान बदलने और सफलता उनके कदम चूमने लगी थी तभी 1988 में उन्होंने बर्गेर पेंट्स, बेस्ट और क्रोम्पटन को भी हासिल कर लिया था. इसके बाद उन्होंने 1990 में मंगलोर केमिकल और फ़र्टिलाइज़र को भी हासिल कर लिया और बाद में एशियाई अखबार और फिल्म पब्लिशर पत्रिका, सिने बिट्स को भी उन्होंने 2001 में हथिया लिया था.

यूनाइटेड किंगफिशर ने भारतीय बियर बाज़ार का लगभग 50% शेयर अपने कब्जे में कर रखा है. भारत ही नहीं बल्कि पुरे 52 देशो में किंगफिशर ब्रांड की बियर उपलब्ध है.

विजय माल्या के अवार्ड्स – Vijay Mallya Awards :
माल्या को भारत ही नहीं बल्कि विदेशो में ही बहोत से पुरस्कार मिले .

1) 1997 में दक्षिणी कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय ने बिज़नस एडमिनिस्ट्रेशन ऑफ़ फिलोसोफी के लिये उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि का सम्मान दिया गया.
2) फ्रांस का सबसे प्रसिद्ध अवार्ड “Officer De La Legion D’Honneur” दिया गया था .
3) वर्ल्ड इकनोमिक फोरम ने उन्हें “कल का वैश्विक नेता” बताया था.
4) 2010 के द एशियाई अवार्ड्स में उन्हें “साल का सर्वश्रेष्ट उद्योगपति” का सम्मान दिया गया था.

भारत के मशहूर राजनेता, सहारा फ़ोर्स इंडिया, रॉयल चैलेंजर, मेक्डोवेल, मोहन बागान और किंगफिशर, ईस्ट बंगाल किन स्पोर्टमैन के मालिक विजय माल्या देश के जाने माने उद्योगपति रहे  है.