दिल्ली के बुराड़ी में एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत ने पुलिस के भी होश उड़ा दिए हैं. रविवार की सुबह-सुबह पड़ोसियों ने जब परिवार के सभी सदस्यों को घर में मरा पड़ा देखा तो इलाके में हड़कंप मच गया. पुलिस ने बताया कि घर की सबसे बुजुर्ग सदस्य 75 वर्षीय महिला नारायणा का शव फर्श पर पड़ा मिला. ऐसा लग रहा है कि उनकी गला दबाकर हत्या की गई है.

जबकि शेष 10 सदस्यों के शव रेलिंग से जाली के फंदे में लटकते मिले. कुछ सदस्यों के हाथ-पैर बंधे हुए थे, जबकि कुछ सदस्यों के आंख पर पट्टी बंधी हुई थी.

नारायणा इस मकान में पिछले 23 साल से अपनी एक विधवा बेटी और दो बेटों के परिवार के साथ रहती थीं. उनके दोनों बेटे मकान के निचले हिस्से में दूध, प्लाईवुड और किराने की दुकानें चलाते थे. सुबह करीब 6 बजे दूध का सप्लायर दूध के क्रेट रख गया, लेकिन घर के अंदर से जब कोई उठाने नहीं आया तो गुरचरण सिंह नाम के उनके पड़ोसी घर में देखने चले गए.

गुरुचरण घर के अंदर जब पहली मंजिल पर पहुंचे तो वहां घर के सभी सदस्यों को मरा पाया. उन्होंने दूसरे पड़ोसियों को सूचित किया और पुलिस को भी सूचना भेजी गई. पुलिस ने बताया कि घर का बाहरी दरवाजा खुला हुआ था. परिवार ने एक कुत्ता भी पाल रखा था, जो छत पर बंधा हुआ मिला.

अब पुलिस के सामने यह पूरा मामला एक गुत्थी बन गया है. घटनास्थल से जो सबूत सामने आ रहे हैं, उनसे भी यह समझ पाना बड़ी मुश्किल हो रहा है कि यह पूरी वारदात खुदकुशी की है या हत्या की. पुलिस के सामने अब ये 13 सबसे अहम सवाल हैं, जिन्हें ढूंढने में वह लगी हुई है-:

1. बुजुर्ग महिला का कत्ल किसने किया और क्यों किया?

2. घर का मुख्य दरवजा क्यों खुला था या किसने खोला?

3. घर में कोई लूटपाट नहीं हुई तो क्या बुजुर्ग महिला को घर के ही किसी सदस्य या करीबी ने मारा?

4. अगर बाकी 10 लोगों ने आत्महत्या की तो किस वजह से?

5. इतने लोगों ने आत्महत्या की तो घर में कोई सुसाइड नोट क्यों नहीं मिला?

6. घर के हालात और गले में लटकी चुन्नी इशारा कर रही है कि परिवार काफी धार्मिक प्रवृत्ति का था.

7. अगर घर में एक कत्ल हुआ या कोई बाहरी आया तो कुत्ता भौंका क्यों नहीं?

8. कुत्ता छत पर ठीक उसी जगह चेन से बंधा था, जिस छत के नीचे जाले से लटके हुए शव मिले.

9. घर में काफी कैश पड़ा मिला है, लेकिन किसी ने उसे चुराया नहीं.

10. रेलिंग से लटकी मिले सभी शवों के हाथ-पैर और मुंह क्यों बंधे थे और किसने बांधे थे?

11. कुछ बच्चों के पैर जमीन से टच भी हो रहे हैं. तो क्या उनकी हत्या कर लटका दिया गया, ताकि वो भी आत्महत्या लगे?

12. सभी ने घर में एक ही जगह खुदकुशी की, वह भी आसपास ही लटककर. मतलब किसी को पहले वाले को मरता देख बिल्कुल डर नहीं लगा.

13. खास बात यह कि सभी एकदूसरे की ओर मुंह करके लटके मिले. शव देखकर साफ अंदाजा लगाया जा सकता है. मतलब सबने एकदूसरे के चेहरों को देखते हुए आत्महत्या क्यों की?

बहरहाल पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और पूरे घर को सील कर दिया है. इस बीच FSL टीम ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर जांच पड़ताल की और सबूतों को इकट्ठा किया. बताया जा रहा है कि परिवार मूलतः राजस्थान का रहने वाला है और बुजुर्ग महिला का एक बेटा अभी भी राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में रहता है.

इस बीच स्थानीय AAP विधायक, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और BJP नेता तथा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर मामले का जायजा लिया.