शिवराज के टूटते तिलिस्म और ब्राहम्णों के विरोध का नतीजा हैं मंडीदीप मैहर और ईसागढ. में भाजपा के किले ढहना.

 मप्र.में क्षीण काँग्रेस को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह की छवि का टूटता तिलिस्म प्राणदायिनी संजीवनी के समान नवजीवन देने वाला प्रमाणित हो रहा है. सूबे के अलग –अलग इलाकों में हुए तीन चुनावी नतीजों नें प्रदेशभर में क्षीण हो रही काँग्रेस को संजीवनी दी है.

कांग्रेस ने तीनों चुनावों में भाजपा को पटखनी लगाकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के राजनीतिक कद और जादू के तिलिस्म को तोड.दिया है.इन चुनावों में भाजपा को मिली हार शिवराज के तिलिस्म को तोडती नजर आ रही है.एसा माना जा रहा है कि ब्राहम्ण विरोधी नजरिये की कीमत चुकानी पडी.सरकार को. सिंहस्थ और आरक्षण पर दलितों की हिमायत नें भाजपा से ब्राहम्ण वर्ग की नाराजी और सवर्णों में भाजपा के प्रति बढते अविश्वास नें शिवराज के जादू का असर उलट दिया. आने वाले दिनों में आरक्षण की राजनीति भारी ही पड.ने वाली है.उधर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को मैहर की जनता ने करारा झटका दिया। सतना जिले की मैहर नगर पालिका चुनाव के नतीजों में भाजपा की हार हुई है। इस चुनाव के लिए सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान खुद प्रचार करने के लिए यहां आए थे।
सोमवार को हुई मतगणना में अध्यक्ष पद के चुनाव में कांग्रेस के धर्मेश घई ने जीत हासिल की।  धर्मेश घई ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के धीरज पाण्डेय को करीब चार हजार मतों से हरा दिया। नगर पालिका अध्यक्ष पद के लिये कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ी टक्कर थी। धर्मेश घई ने 14185 मत हासिल किए वहीं भाजपा के धीरज पान्डेय को 10150 मत मिले।
रायसेन जिले की मंडीदीप नगर पालिका में कांग्रेस प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है। नगर पालिका की जनता ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत जिले से तीन मंत्रियों को करारा झटका दिया है।

कांग्रेस के बद्री सिंह चौहान ने भाजपा प्रत्याशी राजेन्द्र अग्रवाल को 5311 वोटों से हराकार जीत दर्ज की है। कांग्रेस को 18731, बीजेपी को 13420 वोट मिले। रायसेन जिले की नगरीय निकाय की बात करें तो कांग्रेस ने जिन प्रत्याशियों को टिकट नहीं दिया वो वहां से निर्दलीय विजयी हुए हैं। कांग्रेस की जीत में सुरेश पचोरी की भूमिका अहम थी। बीजेपी की हार के लिए प्रत्याशी का गलत चयन माना जा रहा है।

अशोक नगर जिले में ईसागढ़ नगर पंचायत चुनाव में भी भाजपा को करारा झटका लगा है। कांग्रेस के भूपेंद्र नारायण द्विवेदी लगातार तीसरी बार अध्यक्ष चुने गए है। भूपेन्द्र ने भाजपा के उम्मीदवार हरिवल्लभ अग्रवाल को हराया।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष नन्द कुमार सिंह चौहान ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि मैहर और ईसागढ तो कांग्रेस कर परम्परागत सीट हैं वहां जातिगत समीकरण के कारण कांग्रेस जीती है।  मंडीदीप की हार पर उन्होंने प्रत्याशी चयन में चूक बताई। 

(newsbiryani.com)

Satna /Rajgarh /Raisen