दिग्विजय सिंह ने शनिवार को रमनगरा स्थित शिव मंदिर में पूजा-अर्चना की। इस दौरान दिग्विजय और उनकी पत्नी अमृता ने मंदिर में शिव अभिषेक किया। इस दौरान मंत्रोच्चार के बीच मंदिर परिसर भोलेनाथ की जयकारे से गूंज उठा। शिव पूजा के बाद दिग्विजय ने अपनी नर्मदा यात्रा के अगले पड़ाव के लिए प्रस्थान किया। शनिवार को वे शहर में तिलवारा से ग्वारीघाट के बीच नर्मदा पथ पर यात्रा करेंगे।

फूलों से सजाया मार्ग
दिग्विजय सिंह की नर्मदा यात्रा शनिवार को सुबह रमनगरा से ग्वारीघाट की ओर बढ़ी। इस दौरान नर्मदा यात्रा का परिक्रमा पथ पर जगह-जगह लोगों ने भव्य स्वागत किया। इसके लिए नर्मदा पथ की लोगों ने विशेष रूप से साफ-सफाई की। मार्ग को फूलों से सजाया गया। जगह-जगह पूर्व मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए मंच लगाए गए। पूरे पथ पर बैंड-बाजे के साथ ही भक्ति गीत गूंजे। क्षेत्रीय लोगों ने मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी का परिक्रम पथ के प्रत्येक पड़ाव पर तिलक-वंदन कर स्वागत किया।

कांग्रेस नेताओं की भीड़
शहर में दिग्विजय सिंह की नर्मदा यात्रा के प्रवेश के साथ ही नगर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में भी हलचल तेज हो गई। दिग्विजय की यात्रा के शहर में प्रवेश के बाद स्थानीय कांग्रेस नेता बड़ी संख्या में नर्मदा यात्रा में शामिल हुए। खास बात ये रही कि दिग्विजय के समर्थक माने जाने वाले शहर कांग्रेस के नेताओं के साथ प्रदेश के अन्य कांग्रेस क्षत्रपों के समर्थक भी यात्रा में भाग लेने में आगे रहे। चर्चा इस बात को लेकर भी रही कि प्रदेश में होने वाले विस चुनाव में टिकट की उम्मीदवारी कर रहे अधिकांश कांग्रेस नेताओं ने नर्मदा यात्रा के दौरान दिग्विजय सिंह को चेहरा दिखाने का प्रयास किया।

उमाघाट में करेंगे नर्मदा महाआरती
दिग्विजय सिंह नर्मदा यात्रा के दौरान शनिवार को रमनगरा से चलकर जिलहरी घाट तक की यात्रा करेंगे। इस दौरान वे शाम को उमाघाट में काफी समय तक रुकेंगे। जहां, शाम को होने वाली नर्मदा महाआरती में वे भी शामिल होंगे। नर्मदा आरती के बाद दिग्विजय जिलहरी घाट जाएंगे। जहां, आश्रम में रात्रि विश्राम के बाद रविवार की सुबह आगे की नर्मदा यात्रा के लिए प्रस्थान करेंगे।

blob:https://www.patrika.com/76253f65-b028-4ab3-a38a-016641cc9d10