साइना नेहवालसाइना नेहवाल

साइना नेहवाल ने दावा किया है कि राष्ट्रमंडल खेलों के लिए भारतीय टीम के अधिकारियों की सूची से उनके पिता हरवीर नेहवाल के नाम को हटा दिया गया है, जिससे वह बड़ी स्पर्धा के शुरू होने से पहले थोड़ी हताश हो गई हैं.

खेल मंत्रालय ने साइना और रियो ओलंपिक में रजत पदक विजेता पीवी सिंधु के माता-पिता गोल्ड कोस्ट में होने वाले खेलों के लिए भारतीय दल का हिस्सा बनाने की मंजूरी दे दी थी, लेकिन सरकार उनकी यात्रा के खर्च को वहन नहीं करेगी.

साइना ने ट्विटर पर लिखा, ‘आश्चर्य की बात यह है कि जब हमने राष्ट्रमंडल खेल 2018 के लिए भारत से यात्रा शुरू की तो मेरे पिता का नाम टीम के अधिकारी के रूप में शामिल था और मैंने इसके लिए पूरी राशि का भुगतान किया, लेकिन जब हम खेल गांव में आए तो उनका नाम अधिकारियों की सूची में नहीं था.’

हताश साइना ने राष्ट्रमंडल खेल महासंघ को टैग करते हुए कहा कि मैचों के दौरान उनके लिए पिता का समर्थन महत्वपूर्ण है. उन्होंने लिखा, ‘मुझे उनके समर्थन की जरूरत है, क्योंकि मैं नियमित रूप से उन्हें अपनी प्रतियोगिताओं के लिए ले जाती हूं. लेकिन मुझे समझ में नहीं आया रहा कि किसी ने इससे पहले मुझे यह सब क्यों नहीं बताया कि वह कहीं भी प्रवेश नहीं कर सकते# राष्ट्रमंडलखेल 2018’

लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली साइना ने 2010 राष्ट्रमंडल खेल में स्वर्ण जीता था, जबकि 2014 में ग्लास्गो में चोटिल होने के कारण उनकी उम्मीदें टूट गई थीं.