फर्जी वोटर आईडी कार्डफर्जी वोटर आईडी कार्ड

बेंगलुरू। कर्नाटक में मंगलवार देर रात हुए एक सनसनीखेज घटनाक्रम में बेंगलुरु के जलाहल्ली इलाके के एक फ्लैट से करीब 10 हजार फर्जी वोटर आईडी कार्ड मिले हैं। इतनी बड़ी संख्या में फर्जी वोटर आईडी मिलने से बवाल मच गया। राज्य में 12 मई को मतदान होना है।

कर्नाटक के मुख्य चुनाव आयुक्त संजीव कुमार ने कहा कि हमने बेंगलुरु के आरआर नगर के एक फ्लैट से 9,746 फर्जी मतदाता पहचान पत्र बरामद किए हैं। फर्जी मतदाता पहचान पत्र से जुड़े मामले में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
भाजपा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस उम्मीदवार के फ्लैट से फर्जी वोटर आईडी मिले हैं। भाजपा ने बादामी से सिद्धारमैया का नामांकन रद्द करने की भी मांग की है।
कांग्रेस मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा इस तरह कांग्रेस पर आरोप लगाकर अपनी तरफ ध्यान आकर्षित करना चाहती है। उन्होंने कहा कि यह वोटर आईडी कार्ड ना तो पुलिस ने बरामद किए हैं ना ही चुनाव आयोग ने बल्कि इन्हें भाजपा कार्यकर्ता ने बरामद किया है।
उन्होंने कहा कि जिस फ्लैट से वोटर आईडी कार्ड बरामद हुए हैं वो भाजपा नेता नेता हैं। जबकि घर में रहने वाला किरायेदार उन्हीं का बेटा राकेश है। 2015 में राकेश ने भाजपा के टिकट पर निगम चुनाव लड़ा था।